Achyutam Keshavam Krishna Damodaram Bhajan Lyrics in Hindi

0
105

Achyutam – (meaning)indestructible, imperishable, immortalअविनाशी, जिसका नाश न हो सके, अमर, अमिट

अच्युतम – (अर्थ)अविनाशी, जिसका नाश न हो सके, अमर, अमिट – indestructible, imperishable, immortal

Here are the lyrics ;

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी वल्लभं॥
कौन कहता है भगवान आते नहीं,
तुम मीरा के जैसे बुलाते नहीं।

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं, जानकी वल्लभं

कौन कहता है भगवान खाते नहीं,
बेर शबरी के जैसे खिलाते नहीं।

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी वल्लभं॥

कौन कहता है भगवान सोते नहीं,
माँ यशोदा के जैसे सुलाते नहीं।

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी वल्लभं॥

कौन कहता है भगवान नाचते नहीं,
तुम गोपी के जैसे नचाते नहीं।

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी वल्लभं॥

कौन कहता है भगवान नचाते नहीं,
गोपियों की तरह तुम नाचते नहीं।

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी वल्लभं॥

अच्युतम केशवं राम नारायणं
कृष्ण दामोदरं वासुदेवं हरे॥

श्रीधरम माधवम गोपिका वल्लभं
जानकी नायकम, रामचन्द्रम हरे॥

नाम जपते चलो, काम करते चलो
हर समय कृष्ण का ध्यान करते चलो

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी वल्लभं॥

याद आएगी उनको कभी ना कभी
कृष्ण दर्शन तो देंगे कभी ना कभी

अच्युतम केशवं कृष्ण दामोदरं,
राम नारायणं जानकी वल्लभं॥

Comments

0 comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here